MyGov launches Hindi’s Twitter handle and Telegram channel

MyGov launches Hindi’s Twitter handle and Telegram channel | हिन्दी दिवस पर माईगव ने लॉन्च किया हिन्दी का ट्विटर हैंडल और टेलीग्राम चैनल

MyGov launches Hindi's Twitter handle and Telegram channel

आज पूरा देश हिन्दी दिवस मना रहा है और भारत सरकार की जनसहभागिता का मंच माईगव भी हिन्दी के इस्तेमाल को बढ़ावा देने के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध है। हिन्दी दिवस के अवसर पर माननीय प्रधानमंत्री के संदेश से प्रेरित होकर भारत सरकार के जनसहभागिता के मंच माईगव ने हिन्दी का ट्विटर हैंडल और टेलीग्राम चैनल की शुरुआत की है।

माईगव का हिन्दी ट्विटर हैंडल @MyGovHindi बनाया गया, जिस पर भारत सरकार के योजनाओं व गतिविधियों की नवीनतम जानकारी हिन्दी में इन्फोग्राफिक्स, वीडियो व पॉडकास्ट के जरिए प्रदान की जाएगी। टेलीग्राम पर भी माईगव ने अपने आधिकारिक हिन्दी चैनल की शुरुआत की है। इस चैनल से इस लिंक के जरिए जुड़ा जा सकता है। https://t.me/MyGovHindi

माईगव सोशल मीडिया – ट्विटर, फेसबुक, इंस्टाग्राम, यूट्यूब और लिंक्डइन – पर सबसे सक्रिय प्रोफाइलों में से एक है। ट्विटर पर इसके 2.2 मिलियन, फेसबुक पर 1.2 मिलियन और इंस्टाग्राम पर 1 मिलियन से अधिक फॉलोवर्स हैं।

गौरतलब है कि माईगव प्लेटफॉर्म का शुभारंभ 26 जुलाई, 2014 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा सरकारी कार्यक्रमों और नीतियों से संबंधित नागरिक सहभागिता को बढ़ाने के उद्देश्य से किया गया था। माईगव आज जनभागीदारी एवं सूचना प्रसार के एक पसंदीदा मंच के साथ-साथ कोरोना के इस कठिन समय में नागरिकों के लिए जानकारी का एक विश्वसनीय स्रोत बन गया है। 2014 में लॉन्च होने के बाद से, माईगव में 134 लाख से अधिक पंजीकृत उपयोगकर्ता हैं, 969 कार्यों में 8,32,944 के आसपास सबमिशन किए गए हैं और 845 चर्चा मंचों पर लगभग 45 लाख से अधिक टिप्पणियां प्राप्त हुई हैं। 138 प्रश्नोत्तरी कार्यक्रमों में लगभग 61 लाख से अधिक लोगों ने भाग लिया है और 27 प्लेज में 41.65 लाख प्लेज ली गई है।

source-https://www.pib.gov.in/

माईगव ने 13 राज्यों में राज्यव्यापी उदाहरण भी लॉन्च किए हैं और अन्य राज्य भी इस राह पर आगे बढ़ रहे हैं। आज लगभग सभी सरकारी विभाग अपने नागरिक सहभागिता की गतिविधियों, नीति निर्माण के लिए परामर्श और साथ ही विभिन्न सरकारी योजनाओं एवं कार्यक्रमों के बारे में नागरिकों को जानकारी प्रसारित करने के लिए माईगव मंच का लाभ उठाते हैं।

Leave a Comment